-->

जैवमण्डल आरक्षित क्षेत्र (Biospheres Reserves)

  जैवमण्डल आरक्षित क्षेत्र (Biospheres Reserves)

 प्रजातियों के संरक्षण तथा जैवविविधताओं के विकास के लिए भारत सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने जैव मंडल आरक्षित क्षेत्रो की स्थापना की।
जीव मण्डल रिजर्व किसी भी स्थान के स्थाई विकास को संरक्षित रखने और उसे नष्ट होने से बचाने में वहां के पेड़ पौधों तथा सूक्ष्म जीव जन्तु की संख्या और उनका अपने पारिस्थितिक तंत्र में समन्वय होना अत्यंत आवश्यक है भारत के 18 जैव मण्लीय आरक्षित क्षेत्र घोषित हो चुके हैं।
  1. मन्नार की खाड़ी
  2. ग्रेट निकोबार
  3. अगस्तयमलाई
  4. नीलगिरी
  5. सुन्दर वन
  6. नोंकरेक
  7. मानस
  8. दिहांग दिबांग
  9. साइखोवा
  10. अमरकंटक अचानकमार
  11. पंच मढी़
  12. सिमलीपाल
  13. नंदा देवी
  14. कंचनजंगा
  15. कच्छ
  16. कोल्ड डेजर्ट
  17. सैशाचलम हिल्स 
  18. पन्ना 


मन्नार की खाड़ी
1. यह कच्छ के पश्चात् भारत का दूसरा सबसे बड़ा जैव मण्डल रिजर्व है।
2. मन्नार की खाड़ी का भारतीय भाग जो रामेश्वरम द्वीप से लेकर तमिलनाडु के कन्याकुमारी तक विस्तृत क्षेत्र पर फैला है।
3. यह यूनेस्को के जैव मण्डल आरक्षित क्षेत्रो के नेटवर्क के अन्र्तगत सम्मिलित हैं । यह प्रवाल भित्तिओ के लिए जाना जाता है।

ग्रेट निकोबार
1. यह भारत के दक्षिणतम  द्वीप, ग्रेट निकोबार द्वीपसमूह  पर स्थित है।
2. यह डिबू साइखोवा व नोक रेक के पश्चात् तीसरा सबसे छोटा जैव मण्डल आरक्षित क्षेत्र है।इसके अन्र्तगत कैम्पवेल राष्ट्रीय उद्यान व गैलिथिया राष्ट्रीय उद्यान सम्मिलित हैं।
3. इसे यूनेस्को द्वारा मान्यता प्राप्त है।

ग्रेटनिकोबार जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र



अगस्तयमलाई
1. यह केरल में पशि्चमी घाट (इलाइची की पहाड़ियां) के दक्षिणतम क्षोर में अवस्थित है।
2. इसे यूनेस्को के द्वारा मान्यता प्राप्त है।
3. यह नेय्यर, पेप्परा एवं शेन्डुरूनी अभ्यरणों वह आस पास के क्षेत्रों में विस्तृत है।इसी क्षेत्र में अगस्तमअग राष्ट्रीय उद्यान भी है।


नीलगिरी
1. यह भारत का पहला जैव मण्डलीय आरक्षित क्षेत्र है। केरल,कार्नाटक वह तमिलनाडु के मिलन स्थल पर नील गिरी पहाड़ियों में अवस्थित है।
2. इसके अन्र्तगत वायनाड , नागरहोल,बांदीपु ,सुदुमलाई,नीलाम्वर साईलैंट वैली व सिरू मलाई पहाड़ियों के भाग में सम्मिलित हैं।
3. यह यूनेस्को के जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र के नेटवर्क में सम्मिलित हैं।


सुन्दर वन
1. यह एक राष्ट्रीय उद्यान,टाइगर रिजर्व,जै मंडल आरक्षित क्षेत्र है।यह पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में स्थित है।
2. यह एक प्राकृतिक विश्व धरोहर स्थल है।
3. यह विश्व में एक ही जगह पर मैंन्ग्रोव का सबसे बड़ा विस्तार है।
4. यह सुन्दरी वृक्ष, रायल बंगाल टाइगर के लिए जाना जाता है

Sunder van Biosphere reserved



नोकरेक
1. यह मेघालय के गारो पहाड़ियों में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान व जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र है। यह तुरा शिखर के निकट स्थित है।
2. यह मदर आंफ ओरेंज के लिए जाना जाता है।
3. यह यूनेस्को के जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र के नेटवर्क में सम्मिलित हैं।

मानस
1. यह एक राष्ट्रीय उद्यान, टाइगर रिजर्व व जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र है यह असोम में कोकराझार , बोंगाईगांव, नलवरी ,काम रूप व दारांग जिलों में मानस नदी के प्रवाह क्षेत्र में स्थित है।
2. यह एक प्राकृतिक विश्व स्थल है
3. यह यूनेस्को के जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र के नेटवर्क में सम्मिलित हैं।

दिहांग दिबांग
1. यह पूर्वी अरूणांचल प्रदेश में दिहांग वह सियांग की घाटियों में स्थित है
2. इसे जैव मण्डलीय आरक्षित क्षेत्र में मौलिंग राष्ट्रीय उद्यान व दिबांग घाटी अभ्यरण स्थित है।
3. यह पूर्वी हिमालय वायोडायवर्सिटी  हाट स्पाट का एक अंग है।


साइखोवा
1. यह असोम के डिब्रूगढ़ वह तिनसुकिया जिलों में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान व जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र है।
2. यह भारत का सबसे छोटा जैव मण्डल आरक्षित क्षेत्र है।
3. यह ऊपरी असम घाटी में ब्रम्हपुत्र वह बूढ़ी दिबांग नदियों के मध्य स्थित है।


अमरकंटक  अचानकमार
1. यह मध्य प्रदेश व डिंडोरी जिले व छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में मैकाल श्रेणी में स्थित है।
2. 2008 में इसे टाइगर रिजर्व घोषित किया गया था।




पंचमढ़ी
1. यह मध्य प्रदेश के बैतूल जिले एवं होशांगाबाद जिलों में स्थित एक जैवमंडल आरक्षित क्षेत्रों के नेटवर्क के अन्र्तगत सम्मिलित हैं।
2. यह विंध्य पर्वत पर स्थित महादेव पहाड़ी के धूपगढ़ चोटी पर स्थित है।

सिमलीपाल
1. यह उडीसउ राज्य के मयूरंम जिलों में अवस्थित राष्ट्रीय उद्यान है।
2. इस उघान का नामकरण सेमल (लाल कपास) के पेड़ों के कारण किया गया।


नंदा देवी
यह उत्तराखंड के चमोली, पिथौरागढ़ एवं अल्मोड़ा जिले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान एवं जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र है।
2. यह फूलों की घाटी के साथ साथ विश्व धरोहर स्थल में सम्मिलित
है।

कंचनजंगा
1. यह सिक्किम के उत्तर जिले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान एवं जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र है।
2. वन्य जीव, चीता, स्नोलियोपर्ड , स्योलबियर, रेड पांडा, तिब्बती जंगली गधे। कंचनजंगा इसके बीच में स्थित है।
3. इनके अनन्द कई हिमनद है। जिसमें जेमू हिमनद प्रमुख है


कच्छ
1. यह भारत का सबसे बड़ा जैव मण्डल आरक्षित क्षेत्र है।
2. यह एशिया की एक महत्वपूर्ण घास प्रदेश को सम्मिलित करती है।जिसे बन्नी कहते हैं।


कोल्ड डेजर्ट
1. यह हिमांचल प्रदेश एवं लद्दाख में स्थित है।
2. वर्ष 2009 में भारत का 16वां जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया ।
3. पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान इसका प्रमुख अंग है।


सैशाचलम हिल्स
1. यह सैशाचलम पहाड़ी क्षेत्र , चिस्तूर एवं कड़प्पा (आंध्रप्रदेश) में स्थित है।
2. वर्ष 2010 में 17 वां जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया।

पन्ना
1. यह पन्ना और छत्तरपुर जिलों (मध्य प्रदेश) में स्थित है।
2. वर्ष 2011में इसे भारत का 18 वां जैव मंडल आरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया।

जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र से बनने वाले महत्वपूर्ण प्रश्न

1. भारत का सबसे बड़ा जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र कौन सा है?
(a) नीलगिरी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(b) सिमलीपाल जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(c) कच्छ जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(d) मन्नार की खाड़ी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र

2. भारत का सबसे छोटा जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र कौन सा है?
(a) साइखोवा जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(b) नीलगिरी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(c) मन्नार की खाड़ी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(d) पन्ना जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र

3. भारत का सबसे पहला जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र कौन सा है?
(a) मन्नार की खाड़ी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(b) नीलगिरी जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(c) सिमलीपाल जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(d) सैशाचलम जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र

4. 18 वां जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र कौन सा है?
(a) कच्छ
(b) साइखोवा
(c) पन्ना
(d) कोल्ड डेजर्ट
5.भारत का दूसरा सबसे बड़ा जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र कौन सा है?
(a) कोल्ड डेजर्ट
(b) साइखोवा
(c) सैशाचलम जैवमंडल आरक्षित क्षेत्र
(d) मन्नार की खाड़ी

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां