-->

साहित्य अकादमी पुरस्कार 2021

साहित्य अकादमी पुरस्कार 2021


हिंदी साहित्य अकादमी पुरस्कार से लगातार प्रश्न परीक्षाओं में पूछे जा रहे हैं । इसी को ध्यान में रख कर हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार जो अब तक दिये जा चुके हैं। उनको एक सारणी में देने का प्रयास किया है। 

हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार 2021

साहित्य अकादमी पुरस्कार की स्थापना 12 मार्च 1954 में हुई थी। यह एक साहित्यिक सम्मान है। यह पुरस्कार 22 भाषाओं के अलावा अंग्रेजी व‌‌‌ राजस्थानी भाषा में की गई रचनाओं के लिए दिया जाता है। साहित्य अकादमी पुरस्कार में ₹100000, एक प्रशस्ति पत्र और शाल दिए जाते हैं। यह पुरस्कार ज्ञानपीठ  पुरस्कार के बाद, भारत सरकार के द्वारा प्रदान किया जाने वाला दूसरा सबसे बड़ा साहित्यिक सम्मान है। यह पुरस्कार प्रत्येक वर्ष प्रदान किए जाते हैं।

वर्ष साहित्यकार का नाम कृति विधा
1955 माखन लाल चतुर्वेदी हिमतरंगिणी
काव्य
1956 वासुदेव शरण पद्मावत संजीवनी व्याख्या व्याख्या
1957 आचार्य नारेन्द्र देव बौध धर्म दर्शन दर्शन
1958 राहुल सांकृत्यायन मध्य एशिया के इतिहास इतिहास
1959 रामधारी सिंह दिनकर संस्कृति के चार अध्याय भारतीय संस्कृति
1960सुमित्रानंदन पन्त कला और बूढ़ा चाद काव्य
1961 भगवतीचरण वर्मा भूले बिसरे चित्र उपन्यास
 1962 - - -
1963 अमृत राय कलम का सिपाही ( प्रेमचंद) जीवनी
1964 अज्ञेय जी  आंगन के पार द्वार काव्य
1965 डा. नागेन्द्र रस सिद्धांत विवेचना
1966जैनेन्द्र कुमारमुक्ति बोध उपन्यास
1967 अमृतलाल नागर अमृत और विषउपन्यास
1968 हरिवंशराय बच्चन दो चट्टानें काव्य
1969 श्रश्री लाल शुक्लरागदरबारी उपन्यास
1970 राम विलास शर्मानिराला की साहित्य साधनाजीवनी
1971 नामवर सिंहकविता के नये प्रतिमान आलोचना
1972भवानी प्रसाद मिश्र बुनी हुई रस्सी
काव्य
1973 हजारी प्रसाद द्विवेदी आलोक पर्व निबंध
1974 शिवमंगल सिंह सुमन मिट्टी की बारात काव्य
1975 भीष्म साहनीतमस उपन्यास
1976 यशपालमेरी तेरी उसकी बातें उपन्यास
1977 समशेर बहादुर सिंहचूंका भी हूं में नहीं काव्य
1978भारत भूषण अग्रवालउतना वह सूरज है काव्य
1979 सूदामा पांडेय ''धूमिल"कल सुना मुझे काव्य
1980कृष्णा सोबतीजिन्दगीनामा जिन्दा रूख उपन्यास
1981 त्रिलोचन ताप के ‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌ताये हुए दिन काव्य
 1982 हरि शंकर परिसाई विकलांग श्रदा का दौर व्यंग
1983 सर्वेश्वर दयाल सक्सेनाखूंटियों पर टंगे लोग काव्य
1984 रघुवीर सहायलोग भूल गए हैं काव्य
1985 निर्मल वर्मा कव्वे और काला पानीकहानी संग्रह
1986 केदारनाथ अग्रवाल अपूर्वा काव्य
1987श्री कांत वर्मा मगध काव्य
1988 नरेश मेहता अरण्यकाव्य
 1989 केदारनाथ सिंह अकाल में सारस काव्य
1990 शिव प्रताप सिंहनीला चांद उपन्यास
1991 गिरजा कुमार माथुरमें वक्त के हूं सामने काव्य
1992 गिरीराज किशोर ढाई घर उपन्यास
1993 विष्णु प्रभाकरअर्द्धनारीश्वर उपन्यास
1994अशोक बाजपेईकही नहीं वहीं 
 
काव्य
1995कुंवर नारायणकोई दूसरा नहीं काव्य
1996 सुरेंद्र वर्मा मुझे  चांद चाहिए उपन्यास
1997 लीलाधर जागूडीअनुभव के आकाश में चांद काव्य
1998  अरूण कमल नये इलाके में काव्य
1999 विनोद कुमार शुक्ल दीवार में एक खिड़की रहती थी उपन्यास
2000 मंगलेश डबराल हम जो देखते हैं काव्य
2001अलका सरावगीकलिकथा वया बाईपास उपन्यास
2002 राजेश जोशी दो पंक्तियों के बीच काव्य
2003कमलेश्वरकितने पाकिस्तान उपन्यास
2004 वीरेन डंगवाल पुष्पचक्र में सृष्ठा काव्य
2005 मनोहर श्याम जोशी   क्यापउपन्यास
2006 ज्ञानेन्द्र पति सशयात्मा काव्य
2007 अमरकांतइन्हीं हथियारों से    उपन्यास
2008 गोविंद मिश्र  कोहरे में कैद रंग उपन्यास
2009 कैलाश बाजपेई  हवा में हस्तताक्षर काव्य
2010 उदय प्रकाश मोहन दास कहानी
2011 काशी नाथ सिंह रेहन पर रघू काव्य
2012चन्द्रकान्ता देवतालेपत्थर फेंक रहा हूं काव्य
2013मृदुला गर्गमिल जुल मनउउपन्यास
2014रमेश चंद्र शाहविनायक  उपन्यास
2015 राम दरश मिश्रआग की हंसी काव्य
2016नासिरा शर्मा परिजात उपन्यास
2017 रमेश कुंतल मेघ विश्व मिथक सरितसागरपुस्तक
2018  चित्रा मुद्गल  पोस्ट बाक्स न. 203 नाला सुपारा उउपन्यास
2019 नन्द किशोर आचार्य घोलते हुए अपनो को कविता
2020 अनामिकाटोकरी में दिगंत- थोरी गाथा काव्य
2021- -
2022 -


हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार 2020

हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार 2020 साहित्यकार अनामिका  जी को उनके कृति टोकरी में दिगंत - थोरी गाथा के लिए दिया गया है।


#हिन्दी साहित्य अकादमी पुरस्कार 2021 list.

#अनामिका - टोकरी में दिंगत- थोरी गाथा

यह भी पढ़ें -



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां