Nobel Peace prize 2022 | शांति का नोबेल पुरस्कार 2022

 शांति के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा हो चुकी है और 2022 का नोबेल शांति पुरस्कार बेलारूस के मानवाधिकार अधिवक्ता ‘एलेस बियालियात्स्की’, रूसी ‘मानवाधिकार संगठन मेमोरियल’ और यूक्रेनी ‘मानवाधिकार संगठन सेंटर फॉर सिविल लिबर्टीज’ को दिया गया है। आपको बतादें कि 2022 के नोबेल शांति पुरस्कार के लिए 350 व्यक्ति लाइन में थे। इसमें 95 संगठन तथा 250 के करीब व्यक्ति थे। लेकिन इस पुरस्कार को “नाॅर्वेजियन  नोबेल समिति” ने इन नामों की घोषणा की । Nobel Peace Prize 2022  की घोषणा राॅयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज के द्वारा नहीं की जाती है इन पुरस्कारों की घोषणा नार्वे की नार्वेजियन नोबेल समिति के द्वारा की जाती है।

Nobel Peace prize 2022 | शांति का नोबेल पुरस्कार 2022
नोबेल पुरस्कार विजेता –एलेस बियालियात्स्की व दो संस्थाएं [photo credit – Nobelprize.org]

शांति का नोबेल पुरस्कार 2022 [Nobel Peace prize]

शांति का पुरस्कार समाज में सामाजिक का तथा ऐसे विशिष्ट  कार्यों के लिए दिया जाता है। जिनसे समाज और लोगों के बीच एक अनुकूल भावों का माहौल स्थापित हो। इस वर्ष यह पुरस्कार तीन लोगों को दिया गया। जिसमें एक व्यक्ति व दो संस्थाएं हैं। शांति का यह पुरस्कार बेलारूस के Human rights advocate Ales Bialiyatsky, Russian Human Rights Organization Memorial and Ukrainian Human Rights Organization Center for Civil Liberties को यह पुरस्कार दिया गया है।

शांति के नोबेल पुरस्कार की दौड़ में 345 व्यक्ति व संस्थान 

इन पुरस्कारों की घोषणा हो चुकी की इस पुरस्कार के लिए कुछ संस्थान वह कुछ व्यक्ति कुल 250 के करीब लोग दावेदार थ। इसी लाइन में भारत, ब्राजील, युक्रेन सहित अन्य देशों के व्यक्ति शामिल थे। भारत के फैक्ट चेकर्स मोहम्मद ज़ुबैर (Mohammad Zubair) और प्रतीक सिन्हा (Pratik Sinha) शांति के नोबेल के प्रबल दावेदार थे। वर्ष 2022 में ज़ुबैर भारत में बहुत चर्चा में रहे हैं।

See also  Booker prize 2022 : श्री लंकाई लेखक शेहान करुणातिलका को मिला 'बुकर प्राइज 2022'

ये व्यक्ति शांति के नोबेल के लिए प्रबल दावेदार हैं-

1. ज़ुबैर व प्रतीक सिन्हा (Zubair & Pritik Sinha) – भारतीय (Indian)
2. स्वियातलाना सिखानौस्काया (बेलारूस के राजनेता)
3. डेविड एटनबरो 
4. ग्रेटा थनवर्ग (जलवायु कार्यकर्ता)
5. म्यांमार के राष्ट्रीय एकता पार्टी के अध्यक्ष
6. व्लादिमीर जेलेंसकी (यूक्रेन के राष्ट्रपति)
7. विश्व स्वास्थ्य संगठन 
8. एलेक्सी नवलनी (रूस के विपक्ष के नेता)
ये लोग शांति के नोबेल 2022 ( Nobel Peace prize 2022) के प्रबल दावेदार थे। यह पुरस्कार नार्वे कि राजधानी ओस्लो में दिया जाएगा।

कैसे होता है नोबेल पुरस्कार विजेता का चयन ?

नोबेल पुरस्कार विजेता के चयन के लिए कुछ मापदंडों को पूरा करना होता। अगर कोई व्यक्ति इन मापदंडों को पूरा होने की योग्यता रखता है, तो नोबेल पुरस्कार चयन समिति द्वारा ऐसे व्यक्ति को चिन्हित कर लिया जाता है। तथा उसके बाद योग्य व्यक्ति की घोषणा राॅयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज तथा नार्वेजियन नोबेल समिति के द्वारा की जाती है।

BREAKING NEWS:
The Norwegian Nobel Committee has decided to award the 2022 #NobelPeacePrize to human rights advocate Ales Bialiatski from Belarus, the Russian human rights organisation Memorial and the Ukrainian human rights organisation Center for Civil Liberties. #NobelPrize pic.twitter.com/9YBdkJpDLU

— The Nobel Prize (@NobelPrize) October 7, 2022

यह भी पढ़ें>>

एबेल पुरस्कार 2023

भौतिकी के क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार 2022

रसायन के क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार 2022

साहित्य के क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार 2022

Leave a Comment