भारत के सभी विश्व विरासत स्थल | विश्व विरासत सूची 2021

भारत के सभी विश्व विरासत स्थल | विश्व विरासत सूची 2021


 विश्व विरासत स्थल(vishv viraasat sthal)

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञैनिक, एवं सांस्कृतिक संगठन विश्व संस्कृति के महत्वपूर्ण बहुमूल्य प्राचीन दुर्लभ होते हैं। इसमें वन क्षेत्र, पर्वत, झील या शहर शामिल होते हैं। अभी तक भारत की 38 स्थलों को यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल में शामिल किया गया है। तथा मई 2021 में 6 और साईटस् को यूनेस्को द्वारा शामिल की गई हैं। भारत की कुल 44 जगहों को यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत साईटस् के रूप जोडा जा चुका है।
 
यूनेस्को UNESCO

गठन                      - 16 नवम्वर 1945
मुख्यालय               - पेरिस, फ्रांस
अध्यक्ष                   - आंद्रे अजोले
विश्व विरासत दिवस  - 18  अप्रैल 

उत्तर प्रदेश के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Sites of Uttar Pradesh)

आगरा का किला
इसका निर्माण सिकरवार राजपूतों नें 9 वीं शताव्दी में करवाया था। इस किले का वर्णन , किताब -ए- एमिनी में किया गया है। यह किताब प्रसिद्ध इतिहासकार अवी द्वारा लिखी गई है। इस किले पर औरंगजेब, शाहजहां व जहागीर द्वारा शाशन किया गया। आगरा का किला 1983 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया। यह उत्तर प्रदेश के आगरा में स्थित है।

ताज महल
इसका निर्माण शहजहां द्वारा करवाया गया। इसके वास्तुकार उस्ताद अहमद लाहौरी तथा निर्माता मुहम्द ईसा खां फारस थे। यह उत्तर प्रदेश के आगरा में यमुना नदी के किनारे स्थित है। यह विश्व धरोहर की सूची में सबसे पहले 1983 में जोडी गई।

फतेहपुर सीकरी
यह आगरा, उत्तर प्रदेश में स्थित है। इसका निर्माण अकबर के द्वारा कराया गया था। यह मक्का के मस्जिद तथा बुलन्द दरवाजा की नकल माना जाता है। यहां पर शेख सलीम चिश्ती की दरगाह स्थित है। यह 1986 में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया था।

बनारस के गंगा घाट
यह बनारस में गंगा नदी के घाटों को 2021 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल के रूप में घोषित किया है। यह घाट बहुत ही खूबसूरत हैं। भारत के प्रधानमंत्री नारेन्द्र मोदी बनारस सीट से ही सांसद है ।


मध्य प्रदेश के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Sites of Madhya Pradesh)

खजुराहो के मंदिर 
यह मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित है। यहां पर हिन्दू व जैन से सम्बन्धित   मंदिर हैं। यहां पर संभोग के विभिन्न कलाओं का वर्णन मिलता है। इस मंदिर का निर्माण चन्द्रवर्मन राजा के द्वारा कराया गया था । यहां सम्भोग की अनेक मुद्राएं देखने को मिलती हैं। इसलिए इस मंदिर को सेक्स टेम्पेल आफ इंडिया कहा जाता है। यह यूनेस्को द्वारा 1986 में विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया।

सांची का स्तूप
यह मध्य प्रदेश के रायसेन जिला में बेतवा नदी के किनारे स्थित है। इसका निर्माण अशोक द्वारा कराया गया था। यहां युद्ध के अवशेष देखने को मिलते हैं। इन स्तूपों को पुष्यमित्र शुंग द्वारा तुड़वा दिया गया था। तथा इन स्तूपों का पुनर्निर्माण  अग्निमित्र के द्वारा कराया गया।

भीम बेटका की गुफाएं
यह रायसेन जिला, मध्य प्रदेश में स्थित हैं। यहा पर पुरापाषाण काल तथा मध्य पाषाण काल के शैलचित्र देखने को मिले हैं। इसकी खोज डा. बिष्णु श्रीधर ने की यहा पर लगभग 750 शैलाश्रय खोजे गये हैं। इसे यूनेस्को द्वारा 2003 में विश्व विरासत स्थल सूची में शामिल किया‌।

सतपुडा टाईगर रिजर्व 
इसे यूनेस्को द्वारा 2021 में विश्व धरोहर सूची में शामिल किया है। यह मध्य प्रदेश राज्य में स्थित है।

नर्मदा घाट के भेड़ा घाट व लेमाघाट 
इसे यूनेस्को द्वारा 2021 में विश्व धरोहर सूची में शामिल किया है। यह भी मध्य प्रदेश राज्य में स्थित है।

बिहार के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Sites of Bihar)

नालंदा महाबिहार 
इसका निर्माण गुप्त वंश के शासक  कुमार गुप्त द्वारा 450 ई में कराया गया था। 
इसकी खोज फ्रांसिस बुकनेन ने किया। यह विश्व का पहला आवासीय महाबिहार था। इसे 2016 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल सूची में शामिल किया। यह बिहार राज्य में स्थित है।

महाबोधि मंदिर 
यह बिहार राज्य में स्थित है। यहां पर महत्मा बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ती हुई। तथा अशोक ने यहां एक स्तूप का निर्माण कराया था। यह वर्ष 2002 में विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया।

महाराष्ट्र के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Sites of Maharashtra)

अजन्ता की गुफाएं
इसका निर्माण गुप्त शासको द्वारा कराया गया था। यह महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित है। यहां कुल 30 गुफाएं है। यह यूनेस्को द्वारा वर्ष 1983 में विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया।

ऐरोला की गुफाएं
इसका निर्माण राष्ट्रकूट शासकों द्वारा कराया गया यह भी महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित है। यहा कुल 34 गुफाएं हैं गुफा नं. 16 पर कैलाश मंदिर स्थित है। यहां हिन्दू, बौद्ध व जैन से सम्बन्धित गुफाएं है। यह यूनेस्को द्वारा वर्ष 1983 में विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया।

ऐलीफैंटा की गुफाएं
इन्हें धार पुरी की गुफाएं कहा जाता है। यहां कुल 7 गुफाएं देखने को मिलती हैं। यहां पर भगवान शंकर जी की त्रिमूर्ती तथा अर्धनारीश्वर की मूर्तियां देखने को मिलती हैं। इस गुफा का निर्माण सिल्हारा शासकों द्वारा कराया गया। यह यूनेस्को द्वारा वर्ष 1987 में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया।

छात्रपति शिवाजी महराज टर्मिनस
यह महाराष्ट्र राज्य के मुम्बई  में स्थित एक स्टेशन है। इसे विक्टोरिया टर्मिनस भी कहते हैं। यह वर्ष 2004 में विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया।

कर्नाटक के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Karnataka)

हम्पी के अवशेष 
हम्पी विजयनगर साम्राज्य की राजधानी हुआ करती थी । जो कि कर्नाटक में स्थित है। इसकी स्थापना हरिहरि तथा बुक्का ने कराई। यह तुंगभद्रा नदी के किनारे स्थित है। यह वर्ष 1986 में विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया।

पट्टाकल के स्मारक
यह कर्नाटक में स्थित है। यहां बेसर शैली (द्वविड़+नागर) देखने को मिलती है। यह मलय प्रभा नदी तट पर स्थित है। यह चालुक्य वंश की राजधानी बादामी के पास पट्टाकल के स्मारक स्थित थे। यह वर्ष 1987 में विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया।

दिल्ली के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Dheli)

हुमायूं का मकबरा
इसका निर्माण हमीदा बानो बेगम द्वारा किया गया था। यह एक दोहरे गुम्बद वाला मुगल काल का पहला मकबरा है। इसे ताजमहल का पूर्वगामी भी कहा जाता है। यह 1993 ई. में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया।

कुतुबमीनार
यह दिल्ली में स्थित है। इसका निर्माण कुतबुद्दीन ऐवक के द्वारा कराया गया था। यह अफगानिस्तान की जाम मीनार से प्रेरित है। यह 1993 ई. में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया है।

लाल किला
इसका निर्माण शाहजहां द्वारा कराया गया था। इसे लाल किला मुबारक भी कहा जाता है। मोती मस्जिद इस किले के अन्दर शामिल ही है। यह दिल्ली में स्थित है। यह 2007 में विश्व विरासत स्थल की सूची में डाला गया।

गुजरात के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Gujrat)

रानी की बाव
इसका निर्माण सोलन्की वंश के राजाओं ने कराया था। यह एक 7 मंजिला गहरा कुआं है। यह वर्तमान में गुजरात में स्थित है। इसे 2014 में विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया।

चम्पानेर- पावागढ़ पार्क
यहां पर 38 स्मारक भारतीय पुरातत्व के दायरे में आते हैं। यह गुजरात में स्थित हैं। तथा ये 2004 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल में शामिल किये गये हैं।

अहमदाबाद
यह 2017 में विश्व विरासत में शामिल किया गया। यह भारत का पहला शहर है जो विश्व विरासत में शामिल किया गया है। 

उडीसा के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Odisha)

कोणार्क का सूर्य मंदिर
इसका निर्माण गंग वंश के राजा नरसिंह देव प्रथम के द्वारा कराया गया। इसे ब्लैक पैगोडा कहा जाता है। यह उडीसा राज्य में स्थित है। यह 1984 में विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया ।

 

तमिलनाडु के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Tamilnadu

महाबली पुरम् स्थित स्मारक
इसका निर्माण पल्लव शासकों द्वारा कराया गया था। यह तमिलनाडु में स्थित है।
यह वर्ष 1984 में विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया।

चोल मंदिर 
इसका निर्माण राजराज चोल शासकों के द्वारा बनाया गया। इसके साथ वृहद्देश्वर मंदिर जो तंजोर में स्थित है। यह विश्व का एक मात्र मंदिर जो पूरी तरह ग्रेनाइट का बना हुआ है। इन मंदिरों को 1987 ई. में विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया तथा ऐरावत मंदिर को सन् 2004 में शामिल किया गया ।

राजस्थान के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Rajasthan)

जंतर मंतर 
इसका निर्माण सवाईराजा जयसिंह द्वितीय के द्वारा कराया गया । यह जयपुर, राजस्थान में स्थित है। यह सन् 2010 में विश्व विरासत स्थल में शामिल किया गया।
राजस्थान के 6 पहाड़ी किला
  1. अजमेर का किला, जयपुर
  2. गागरौन का किला, झालवाड़
  3. कुम्भलगढ़ किला, 
  4. रणथम्भौर किला, 
  5. चित्तौडगढ़ का किला, भीलबाडा 
  6. जयसलमैर किला

इन किलों को वर्ष 2013 में विश्व विरासत स्थल सूची में शामिल किया गया ।
 

राजस्थान के विश्व धरोहर स्थल (World Heritage Site of Rajasthan)

मानस वन्य जीव अभ्यरण
यह वर्ष 1984 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया।यह असम में स्थित है।

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
यह उद्यान एक सींघ वाले गैडें के लिए प्रसिद्ध है। यह उद्यान असम राज्य में स्थित है। यह वर्ष 1984 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया। 

भारत के अन्य विश्व धरोहर स्थल (Other World Heritage Site of India)

कैपिटल काॅम्पलेक्स - चंडीगढ़
इसका डिजाइन ली कार्बूजिये (फ्रांसीसी वास्तुकार) द्वारा 1550 में किया गया। यह 2016 में विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया। 

कंचनजंघा राष्ट्रीय पार्क
यह एक बायोस्पीयर रिजर्व भी है। यह विश्व का तीसरा सबसे ऊंचा पर्वत भी है। यहां पर कस्तूरी मृग, हिम तेंदुआ, लाल पंडा, पाये जाते हैं। इसे 6 अगस्त 1997 को मिश्रित परि संपतियों के अंतर्गत रखा गया है।

भारत के पर्वतीय रेलवे
1. दार्जलिंग - यह पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित है।
2. शिमला   - यह हिमाचल प्रदेश में स्थित है।
3. नीलगिरी - यह तमिलनाडु में स्थित है।
इन पर्वतीय रेलवे को क्रमश: 1999, 2005, 2008 में विश्व धरोहर स्थल की सूची में शामिल किया गया।

पश्चिमी घाट
पश्चिमी घाट भारत के गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा , कर्नाटक, केरल तथा तमिलनाडु राज्यो में विस्तार है। इसे 2012 में विश्व विरासत स्थल के रूप में शामिल किया गया। पश्चिमी घाट जैवविविधता का हाॅटस्पाट क्षेत्र है। 


विरासत स्थलों की सूची 2021 (world Heritage sites list 2021 PDF)



S.N. विश्व विरासत स्थल सम्बन्धित राज्य वर्ष
1. आगरा का किला उत्तर प्रदेश1983
2.  अजन्ता की गुफाएं महाराष्ट्र 1983
3. ऐरोला की गुफाएंमहाराष्ट्र 1983
4.  ताज महल उत्तर प्रदेश 1983
5. कोणार्क का सूर्य मंदिर उडीशा1984
6महाबलिपुरम् स्थित स्मारकतमिलनाडु 1984
7.  मानस वन्यजीव अभ्यरण असम1985
8. काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम 1985
9. केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान1985
10. गोवा के चर्च गोवा 1986
11. फतेहपुर सीकरीउत्तर प्रदेश 1986
12. हम्पी के स्मारक कर्नाटक 1986
13. खुजराहो के मंदिर मध्य प्रदेश1986
14.एलिफेंटा की गुफाएंमहाराष्ट्र 1987
15 महान चोल मंदिर तमिलनाडु1987
16. पट्टाकल के स्मारक कर्नाटक 1987
17. सुन्दरवन राष्ट्रीय उद्यान पश्चिम बंगाल 1987
18 नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यानउत्तराखण्ड 1987
19. सांची का स्तूप  मध्य प्रदेश 1989
20 हिमायू का मकबरा दिल्ली 1993
21कुतुब मीनारदिल्ली 1993
22.  भारत के पर्वतीय रेलवे
दार्जलिंग
शिमला
नीलगिरी

पश्चिम बंगाल
हिमाचल प्रदेश
तमिलनाडु

1999
2005
2008
23. महाबोधि मंदिर  बिहार 2002
24. भीम बेटका गुफाएं मध्य प्रदेश2003
25. चम्पानेर पार्क गुजरात 2004
26. छत्रपति शिवाजी महराज टर्मिनसमहाराष्ट्र 2004
27. लाल किला  दिल्ली 2007
28. जंतर मंतर राजस्थान2010
29.पश्चिमी घाट गुजरात,महाराष्ट्र,गोवा,
कर्नाटक,केरल,तमिलनाडु
2012
30. राजस्थान के पहाडी किले राजस्थान2013
31. रानी की बाव गुजरात 2014
32.ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान हिमाचल प्रदेश2014
33. नालन्दा बिहार 2016
34. कंचनजंघा राष्ट्रीय उद्यानसिक्किम  2016
35. ली कार्बुसियस के स्थापत्य कार्य चंढीगढ़ 2016
36. अहमदाबाद गुजरात2017
37.विक्टोरिन गोथिक और आर्ट डेकोमहाराष्ट्र 2018
38. जयपुर  राजस्थान2019
39. बानारस के गंगा घाट* उत्तर प्रदेश 2021
40.तमिलनाडु का कांचिपुरम् मंदिर* तमिलनाडु2021
41. मध्य प्रदेश का सतपुडा टाईगर रिजर्व* मध्य प्रदेश 2021
42. महाराष्ट्र की सैन्य वास्तुकला* महाराष्ट्र 2021
43. मध्य प्रदेश में नर्मदाघाट के भेडाघाट तथा लेमाघाट*मध्य प्रदेश 2021
44. कर्नाटक के हीरे बेनाकल  कर्नाटक 2021

यह भी पढ़े-

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ